+91-9958716428 kmy@kailashyatra.asia
Welcome to Ambraoleia Hospitality Pvt Ltd

Login

Sign Up

After creating an account, you'll be able to track your payment status, track the confirmation and you can also rate the tour after you finished the tour.
Username*
Password*
Confirm Password*
First Name*
Last Name*
Email*
Phone*
Country*
* Creating an account means you're okay with our Terms of Service and Privacy Statement.

Already a member?

Login
+91-9958716428 kmy@kailashyatra.asia
Welcome to Ambraoleia Hospitality Pvt Ltd

Login

Sign Up

After creating an account, you'll be able to track your payment status, track the confirmation and you can also rate the tour after you finished the tour.
Username*
Password*
Confirm Password*
First Name*
Last Name*
Email*
Phone*
Country*
* Creating an account means you're okay with our Terms of Service and Privacy Statement.

Already a member?

Login

गोरखपुर – काठमांडू से बस द्वारा कैलाश मानसरोवर यात्रा

0
सबसे अच्छा,सबसे सस्ता
From₹ 135,000
सबसे अच्छा,सबसे सस्ता
From₹ 135,000
Available: 52 seats
* Please select all required fields to proceed to the next step.

Proceed Booking

Save To Wish List

Adding item to wishlist requires an account

69974
त॓रह रात चौदह दिन
Availability : मई से सितम्बर तक
काठमांडू
काठमांडू
Min Age : 10 -69 साल
Max People : 52
यात्रा के विवरण

कैलाश मानसरोवर यात्रा बस द्वारा गोरखपुर /काठमांडू हवाई अड्डे / शहर / बस स्टैंड से शुरू होती है। यह यात्रा 14 दिनों का है किरोंग सीमा के माध्यम से। यह पूरी तरह से बस द्वारा दौरा है। यात्रा कार्यक्रम में अधिक पढ़ें.

प्रस्थान और वापसी स्थान

काठमांडू (Google Map)

प्रस्थान समय

काठमांडू हवाई अड्डे / शहर के लिए किसी भी समय पहुंचें.हम वहाँ स॓ आपको ल॓ जायेंग॓ ।

मूल्य म॓ शामिल है

  • काठमांडू हवाई अड्डे से होटल के लिए स्थानांतरण
  • ४ रात नेपाल में और ९ रातें तिब्बत में रुकने के लिए
  • वातानुकूलित बस द्वारा पूरा यात्रा
  • तिब्बत और चीन का वीजा सुविधा
  • काठमांडू में पशुपतिनाथ जी और बुढ़नाथ जी का दर्शन
  • सुध शाकाहारी भोजन की उत्तम वेबस्ठा
  • अंग्रेजी और हिंदी बोलने वाला गाइड
  • ताजा ताजा भोजन बनाने वाला रसोइया पूरी यात्रा में और सामान ढोंने वाला शेरपा दारचेन तक
  • सभी तरह के कर और अनुमति पास

मूल्य म॓ शामिल नही है

  • कैलाश की परिक्रमा के लिए घोडा
  • किसी भी अन्य तरह का शुल्क जो की ऊपर नहीं लिखा है

फ्री और वापस करने वाला सामग्री का लिस्ट

  • अतिरिक्त भुगतान पर छाता
  • अतिरिक्त भुगतान पर मुँह में लगाने वाला क्रीम
  • जैकेट पहन कर फिर वापस करने के लिए
  • अनुमति पास मुफ्त में
  • टोपी मुफ्त में
  • टोर्च अतिरिक्त शुल्क पर उपलब्ध
  • परिक्रमा के लिए छड़ी अतिरिक्त शुल्क पर उपलब्ध
  • सबके लिए ऑक्सीजन मुफ्त में उपलब्ध
  • सामान ले जाने केलिए बड़ा और छोटा बैग
यात्रा कार्यक्रम

पहला दिन काठमांडू हवाई अड्डे पर आगमन (केटीएम) (1300 मीटर)

त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आगमन (हवाई अड्डा कोड- केटीएम) हमारे प्रतिनिधि से मिलें, काठमांडू में 3 स्टार या इसी तरह की श्रेणी में रात का विश्राम करें । कैलाश मानसरोवर यात्रा के बारे में शाम को लघु जानकारी . काठमांडू में रात्रिभोज और रात भर रहें.
नोट- काठमांडू में होटल 3 सितारा श्रेणी के हैं।
• भोजन: रात का खाना केवल
• क्या करें बाकी पूरे दिन – आराम करें
• आवास: होटल 3 स्टार ।
• परिवहन एसी लक्ज़री कोच

दूसरा दिन काठमांडू- पूर्ण दिवस पर्यटन स्थलों का भ्रमण-

नाश्ता के बाद, हम पशुपति नाथ मंदिर, बुद्ध नीलेकंठ नारायण मंदिर, सिंभुनाथ मंदिर के दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए आगे बढ़ेंगे। शाम मे वापस होटल आय॓ंगे, रात्रिभोज और आराम ।
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात क़ा भोजन ।
• क्या करें: मंदिरों और यात्रा के पर्यटन स्थलों का भ्रमण
• आवास: होटल ३ सितारा ..
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच।

तीसरा दिनकाठमांडू - धुन्चे । सिबरुब्सी । रसुवा गढी (१२० किलोमीटर - ६ घंटे यात्रा, २५०० मीटर)

नाश्ता के बाद, हम रासुवा गढी (यह नेपाल में नई बॉर्डर है, जो कि कोडरी को चीन में प्रवेश करने के बाद पर्यटक के लिए खोल दिया गया है), पसांग लहामु राजमार्ग के माध्यम से, चीन सीमा १२० किमी दूर है काठमांडू स॓। नेपाल के बागमती क्षेत्र में नेपाल मुख्यालय का यह सबसे छोटा जिला डुन्छे में है। रात का आराम गेस्टहॉउस में सह यात्री के साथ शेयरिंग पे
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• कार्य करें: यात्रा
• आवास: शेयरिंग आधार पर गेस्ट हाउस । लॉज।
परिवहन: गैर एसी लक्ज़री कोच, दर्शनीय स्थलों की यात्रा के अलावा।
शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य
नोट- धुंचे । सिबरूब्सी । रसुवा गढ़ी में लॉज और गेस्ट हाउस बहुत सरल और साधारण हैं।

चौथा दिन रासुवा से कीलॉन्ग बॉर्डर - वीजा जांच ( 135 किमी - 4 घंटा , 3700 मीटर )

नाश्ता के बाद, आगे की यात्रा के लिए बढ़॓, रासुवा गढी में हम कस्टम और आप्रवासन औपचारिकताओं की प्रक्रिया के माध्यम से जाएंगे। औपचारिकताओं के बाद हम नेपाल से पार हो जाएंगे। अब आप तिब्बत (चीन के स्वायत्त क्षेत्र) में हैं, यहां आपको हमारे तिब्बती गाइड और चालक से स्वागत किया जाएगा, उसके बाद केलोंग सड़क के माध्यम से केलोंग तक पहुंचेंगे। यहां फिर हम चीनी प्राधिकरण द्वारा कस्टम और आप्रवासन की प्रक्रिया के माध्यम से जाना होगा। औपचारिकता के बाद गेस्ट हाउस , लॉज में चेक इन करें . शेष दिन आराम होगा।
नोट- केलोंग में लॉज और अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: यात्रा और अधिमानण
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
शौचालय और शावर सुविधा- सामान्य

पांचवा दिन केलोंग में पुरा दिन आराम - अनुकूलन

आज ग्यारॉन्ग / कीलॉन्ग में पूर्ण दिवस का अनुकूलन होगा
अनुकूलन का अर्थ- अधिक उचाई पे जाने से शरीर में कई तरह के परेशानी आने लगते हैं । आपके शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है जिसके लिए आराम की सख्त आवशयकता होती है ..इसीलिए हम पूरा दिन कीलॉन्ग में आराम करेंगे ताकि हमें आगे जाने में कोई परेशानी न हो । इस प्रक्रिया को अनुकूलन के रूप में जाना जाता है और आमतौर पर उस ऊंचाई पर 1-3 दिन लगते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप 10,000 फीट (3,048 मीटर) तक बढ़ोतरी करते हैं, और उस ऊंचाई पर कई दिनों तक खर्च करते हैं, तो आपका शरीर 10,000 फीट (3,048 मीटर) तक पहुंचता है। यदि आप 12,000 फीट (3,658 मीटर) चढ़ते हैं, तो आपके शरीर को एक बार फिर से समायोजित करना होगा। श्वसन की गहराई बढ़ जाती है।

नोट- कीलॉन्ग में अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: प्रकृति की सुंदरता का आनंद लें और आनंद लें
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य

छठा दिन कीलॉन्ग - सागा / जोंगबा ( 268 किमी - 8 घंटा , 4400 मीटर )

नाश्ता के बाद, हम ज़ोग्बा के लिए आगे बढ़ेंगे, जो 4400 मीटर की ऊंचाई पर है वाया सागा. ग्यारोंग से सागा 264 किलोमीटर दूर है। ज़ोग्बा (4400 मीटर) में आगमन के बाद, रात का आराम अतिथि गृह में सह यात्री के साथ शेयरिंग पे
नोट- ज़ोंग्बा में लॉज और गेस्ट हाउस बहुत सरल और साधारण हैं
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: प्रकृति की सुंदरता का आनंद लें और आनंद लें
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य

सातवा दिन जोंगबा से - मानसरोवर झील ( 300 किमी - 8 घंटा , 4590 मीटर )

नाश्ता के बाद, हम मानसरोवर झील के लिए आगे बढ़ेंगे, जो 4590 मीटर की ऊंचाई पर है, ज़ोंग्बा से 300 किमी दूर, यात्रा की अवधि लगभग 8 घंटे है। पवित्र झील कोरा मार्ग (परिधि पथ) और कुल 320 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 88 किलोमीटर की परिधि के साथ अपेक्षाकृत गोल है, जहां मध्य भाग में सबसे गहरी बिंदु 90 मीटर है। ऐतिहासिक रूप से, तिब्बती समाज में झील पवित्र है क्योंकि भगवान बुद्ध की मां ने देवताओ के कहने पर पवित्र झील में स्नान किया और और शरीर को सुद्ध किया। फिर उन्होंने ने एक स्वेत गज को देखा जो की पवित्र कैलाश पर्वत की परिक्रमा कर रहा था फिर उन्हें अपने गर्भ में भगवान बुद्धा के होने की आभास हुई। पवित्र झील के चारों ओर घूमते हुए तीर्थयात्रियों को एक पूर्ण परिपालन बनाने में चार-पांच दिन लगते हैं, इसका कारण यह है कि वे सभी पापों को धोने और उनके जीवन बहुत अच्छी हो इसकी कामना करते हैं । हिंदू ग्रंथों के अनुसार, झील मानस सरोवर पवित्रता का प्रतीक है, और जो झील से पानी पीता है वह मृत्यु के बाद भगवान शिव के निवास में जाएगा। माना जाता है कि वह अपने सभी पापों से भी सौ से अधिक जन्मदिन की शुद्धता से शुद्ध हो जाते हैं।
नोट- मानसरोवर झील में लॉज और गेस्ट हाउस बहुत सरल और साधारण हैं
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: प्रकृति की सुंदरता का आनंद लें और आनंद लें
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा – उपलब्ध नहीं

आठवा दिन मानसरोवर झील से दारचेन ( 88 किमी , झील की परिक्रमा २० किमी, फिर दारचेन तक की यात्रा ) -4600 मीटर

सुबह सुबह उठकर, झील में पवित्र स्नान किया जाएगा और भोले नाथ की मन से पूजा कीजिये इसके बाद मानसरोवर झील की परिक्रमा करेंगे बस से , जो लगभग 88 किलोमीटर है और परिक्रमा के बाद आगे बढ़ेंगे दारचेन की तरफ, जो कि पवित्र पर्वत कैलाश के सामने स्थित है। इसकी ऊंचाई 4610 मीटर है और इस क्षेत्र में तीर्थ यात्रा के लिए शुरुआती बिंदु और समापन बिंदु है। यह लगभग 2 घंटे झील मानसरोवर (चुई गोम्पा) से यात्रा है, झील से लगभग 40 किमी। रात का आराम अतिथि गृह में सह यात्री के साथ शेयरिंग पे

नोट- दारचेन में अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं , अगर आप फोर स्टार होटल में रुकना चाहते हैं तो अतिरिक्त भुगतान कर ले सकते हैं। कीमत ५०००- ६००० रुपया प्रति रात
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: भगवन शिव के घर कैलाश पर्वत की झील से पहली नजारा और नज़दीकी दृश्य, परिक्रमा ।
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्जरी बस / जीप या किसी अन्य वाहन। (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य

नौवा दिन दारचेन से यमद्वार से डेराफुक -(18 किमी - 7 घंटा , 5200 मीटर)

आज हम पहली दिन की परिक्रमा की सुरुवात करेंगे। बस द्वारा हमलोग यमद्वार पहुंचेंगे वहाँ से हम लोग पैदा परिक्रमा की सुरुवात करेंगे डेराफुक तक के लिए. घोड़े आपको यमद्वार के पास मिल जायेगा जो की तीन दिन के परिक्रम के लिए बीस से पच्चीस हजार रुपया लेगा अगर आप यहां घोडा नहीं लेते हैं फिर वो आपको कहीं नहीं मिलेगा | अगर आप वाहन से जाना चाहते हैं तो लैंड क्रूजर मिल जायेगा और वो केवल डेराफुक तक के लिए १००० से १५०० रुपया आपसे मांगे गा। ६ घंटे की परिक्रमा के बाद रात का आराम साधारण से अतिथि गृह में।
नोट- डेराफुक में अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
शौचालय और नहाने की सुविधा- उपलब्ध नहीं

दसवा दिन डेराफुक से ज़ुठुल फुक की परिक्रमा दोल माला पास होते हुए (२२ किमी - 10 घंटा , 4750 मीटर )

आज हम दूसरे दिन की परिक्रमा की सुरुवात करेंगे नास्ता के बाद . आज का दिन सबसे कठिन रहेगा पूरी यात्रा के दरम्यान। आज हमें २२ किमी की परिक्रमा करनी है वो भी पैदल या फिर घोड़े से। डोलमाला पास सबसे ऊँचा स्थान हैं २१००० फ़ीट , बिल्कुल पवित्र गुफा के सबसे ऊँची छोटी के सामने से गुजरेंगे उसके बाद निचे उतरेंगे ज़ुठुल्फुक की तरफ. 12 घंटे की परिक्रमा के बाद रात का आराम साधारण से अतिथि गृह में।
नोट- ज़ुठुल्फुक में अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
शौचालय और नहाने की सुविधा- उपलब्ध नहीं

ग्यारहवां दिन ज़ुठुल्फुक से दारचेन तक वापस

आज फिर परिक्रमा सुरु करेंगे ज़ुठुल्फुक से , ६ किमी की परिक्रमा के बाद बस से दारचेन वापस आ जायँगे , भोजन कर्नेगे फिर बस से जोंगबा रवाना हो जायेंगे मानसरोवर झील होते हुए |
नोट- ज़ोंग्बा में लॉज और गेस्ट हाउस बहुत सरल और साधारण हैं
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: प्रकृति की सुंदरता का आनंद लें और आनंद लें
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य

बारहवा दिन जोंगबा से कीलॉन्ग

आज जोंगबा से बस द्वारा कीलॉन्ग बॉर्डर आ जायेंगे सागा होते हुए ।
नोट- कीलॉन्ग में अतिथि गृह बहुत सरल और साधारण हैं
• भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: प्रकृति की सुंदरता का आनंद लें और आनंद लें
• आवास: सह यात्री के साथ शेयरिंग आधार पर अतिथि गृह । लॉज।
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)
. शौचालय और नहाने की सुविधा- सामान्य

तेरहवा दिन कीलॉन्ग से काठमांडू

आज चीन बॉर्डर क्रॉस करके उसी रास्ते से वापस कीलॉन्ग से काठमांडू आ जायँगे जैसे गए रहेंगे।
भोजन: नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन
• क्या करें: यात्रा
• आवास: तीन सितारा होटल में रुकने की व्यवस्था
• परिवहन: एसी लक्ज़री कोच (मौसम और सड़क की स्थिति के अधीन एसी।)

चौदहवा दिन काठमांडू से घर वापसी

आज टूर का अंतिम दिन है। नास्ता के बाद हम आपको एयरपोर्ट या बस स्टैंड पे छोड़ आएंगे , घर वापस जाने के लिए. टूर यहां समाप्त हो जायेगा हमरी अच्छी यादों के साथ. बम बम भोले

नक्सा

तस्वीरें
6 travellers are considering this tour right now!